स्वाभिमान टीवी, बरेली। समाजवादी पार्टी से आंवला लोकसभा के नवनिर्वाचित सांसद नीरज मौर्य ने आज पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यकाल में बने 300 बेड हॉस्पिटल का निरीक्षण कर तमाम अनियमिताओं पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की । आज दोपहर 12:00 बजे नीरज मौर्य समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता मयंक शुक्ला समेत समाजवादी पार्टी के कई लोग 300 बेड हॉस्पिटल पर पहुंचे जहां पर निरीक्षण के दौरान यह पता चला कि अस्पताल के सिर्फ 5% हिस्से का ही उपयोग चिकित्सा व्यवस्था में हो रहा है बाकी 95% हॉस्पिटल जलमग्न है।

आईसीयू और वेंटीलेटर की मशीन सीलन और जल भराव के कारण खराब होती दिखाई दे रही हैं प्राइवेट वार्ड समेत तमाम वार्डों की स्थिति सीलन जल भराव और अवस्थाओं के कारण बेहद खराब मिली , इतनी बड़ी व्यवस्था जो समाजवादी पार्टी की सरकार के कार्यकाल में बनी उसका उपयोग न करके भारतीय जनता पार्टी अपनी द्वेष पूर्ण मानसिकता को दर्शाने का काम कर रही है नीरज मौर्य ने अपने निरीक्षण के दौरान मरीजों से उनके हाल-चाल जाने दवाई और अन्य जांचों संबंधित हो रही किसी भी सुविधा के बारे में पूछताछ की।

सीएमएस डॉक्टर इम्तियाज ने बताया कि 300 बेड हॉस्पिटल पर इंफ्रास्ट्रक्चर की कोई कमी नहीं है मगर स्टाफ की कमी के कारण स्थिति खराब है । एक महत्वपूर्ण समस्या और निरीक्षण के दौरान पाई गई कि वहां पर स्टाफ जो आउटसोर्सिंग से रखे गए थे उन सभी का कार्यकाल 30 जून को समाप्त हो गया है उसके बावजूद भी सभी कर्मचारियों से कार्य कराया जा रहा है कर्मचारियों ने भी अपनी समस्या संसद के सभी कर्मचारियों से कार्य कराया जा रहा है कर्मचारियों ने भी अपनी समस्या संसद के समक्ष रखी आंवला सांसद नीरज मौर्य ने उन सभी की बात मजबूती से स्वास्थ्य मंत्रालय वह सभी संबंधित अधिकारियों के आगे मजबूती से रखने की बात कही।

सांसद नीरज मौर्य ने बताया कि लखनऊ दिल्ली समेत सभी स्वास्थ्य अधिकारियों तक यह बात पहुंचाई जाएगी और अगर सुधर नहीं हुआ तो जल्द ही इस मामले को लोकसभा में भी उठाया जाएगा । सपा प्रवक्ता मयंक शुक्ला ने बताया की स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा समाजवादी पार्टी का हमेशा मुख्य मुद्दा रहा है और इस पर मजबूती से कार्य करने का काम पार्टी द्वारा किया जाएगा इस मौके पर मुख्य रूप से मौजूद रहे सांसद नीरज मोर्य सपा प्रवक्ता मयंक शुक्ला , सतेंद्र श्रीवास्तव , ब्रजेश श्रीवास्तव , नरेश मौर्य , आलोक मौर्य , आलोक मिश्रा आदि लोग मौजूद रहे ।

By ashmit