बरेली में दौड़गी मैट्रो लाईट, मैट्रो लाईट कॉरीडोर प्रस्तावित, कमिश्नर ने सम्बन्धित विभागों से NOC प्राप्त कर शासन को प्रेषित करने दिए निर्देश

मैट्रो लाईट परियोजना की एएआर एवं डीपीआर तैयार करने हेतु बैठक हुई सम्पन्न

प्रथम चरण में रेलवे जक्शन से चौकी चौराहा बाया सैटेलाईट बस स्टैण्ड से बैरियर-2 तिराहा तथा चौकी चौराहा से कुतुबखाना चौराहा बाया डेलापीर तिराहा से बैरियर-2 तिराहा तक कॉरीडोर प्रस्तावित

प्रस्तावित दोनों कॉरीडोर के लिए सभी सम्बन्धित विभागों से अनापत्ति प्राप्त कर शासन को प्रेषित करने दिए निर्देश – मण्डलायुक्त

बरेली, 11 जून। बरेली वासियों के लिए अच्छी खबर है। बरेली में जल्द ही मैट्रो दौड़ती नजर आएगी। जिससे लोगो को एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने में काफी सुविधा होगी।
मण्डलायुक्त सौम्या अग्रवाल की अध्यक्षता में आज आयुक्त सभागार में बरेली शहर में प्रस्तावित मैट्रो लाईट परियोजना की एएआर एवं डीपीआर तैयार करने हेतु नियुक्त कन्सलटेन्ट एजेन्सी मै0 राइट्स लि0 द्वारा कम्प्रेहनसिव मोबिलिटी प्लान(सी0एम0पी0) के डाटा के आधार पर तैयार किये गये कॉरीडोर के निर्धारण को अन्तिम रूप दिये जाने हेतु शहर के सभी सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों तथा मै0 राइट्स लि0, उ0प्र0 मैट्रो रेल कॉर्पाेरेशन लि0 तथा मै0 यू0एम0टी0सी0 लि0 के अधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। मै0 राइट्स लि0 द्वारा मैट्रो लाईट परियोजना के प्रथम चरण हेतु सी0एम0पी0 डाटा के आधार पर निम्नलिखित दो कॉरीडोर प्रस्तावित किये गये है।

1- रेलवे जंक्शन-चौकी चौराहा-सैटेलाईट बस स्टैण्ड-रूहेलखण्ड यूनिवर्सिटी-फनसिटी-बैरियर-2 तिराहा (अनुमानित लम्बाई-12.00 कि0मी0)
2- चौकी चौराहा-अयूब खां चौराहा- कुतुबखाना चौराहा- कुहाड़ापीर तिराहा- डेलापीर तिराहा (आई0वी0आर0आई0)-बैरियर-2 तिराहा (अनुमानित लम्बाई-9.50 कि0मी0)

दोनो कॉरीडोर पर समस्त विभागों के अधिकारियों द्वारा प्राथमिक रूप से सहमति व्यक्त की गयी तथा आयुक्त द्वारा उपरोक्त प्रस्तावित कॉरीडोर के लिए सभी सम्बन्धित विभागों से अनापत्ति प्राप्त करने हेतु कार्यवाही करने के निर्देश प्रदान किये गये तथा डिपो हेतु प्रस्तावित विभाग भूमि के सम्बन्धित विभाग यथा वनविभाग, एयरफोर्स, लोक निर्माण विभाग, यूनिवर्सिटी से अनापत्ति प्राप्त करने हेतु भी कार्यवाही करने के निर्देश प्रदान किये गये तथा उपरोक्त दोनो कॉरीडोर की एएआर एवं डीपीआर करने हेतु सहमति व्यक्त की गयी। उक्त दोनो कॉरीडोर पर ए0ए0आर0 रिपोर्ट के आधार पर मैट्रो के स्वरूप का निर्धारण किया जायेगा। उपरोक्त दोनो कॉरीडोर की अनुमानित लागत रू0-5000.00 करोड़ होगी।

द्वितीय चरण में एक कॉरीडोर चौकी चौराहे से रामपुर रोड पर सी0बी0 गंज तक तथा दूसरा कॉरीडोर रेलवे जक्शंन से बदायू रोड पर साउथ सिटी मोड़ तक भी भविष्य में किया जाना प्रस्तावित है।

बैठक में प्रभागीय वनाधिकारी दीक्षा भण्डारी, सचिव बीडीए योगेन्द्र कुमार, एसपी ट्रैफिक शिवराज सिंह, अपर नगर आयुक्त, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग, एआरएम रोडवेज, बीडीए/सेतु निगम के अधिकारी सहित सम्बंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

By Anup